सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

Featured Post

BS-4 श्रेणी के वाहन गलती से भी न खरीदें क्योंकि …

सुप्रीम कोर्ट ने आज BS-4 वाहनों के संबंध में एक महत्वपूर्ण स्पष्टीकरण दिया।  सुप्रीम कोर्ट ने ने कहा कि देश मे स्टेज-4 (BS-4) श्रेणी के सभी वाहनों को 1 अप्रैल, 2020 से देश में नहीं बेचा जाएगा। केंद्र सरकार ने मोटर वाहनों में प्रदूषण के नियमन हेतु 1 अप्रैल, 2020 से भारत स्टेज-6 (BS-6) इंजन के निर्माण के नियमों को लागू करने जा रही हैं।

 सुप्रीम कोर्ट ने कार कंपनियों की एक याचिका पर सुनवाई करते हुए शुक्रवार, 14 फरवरी, 2020 को एक अहम फैसला किया।  इस फैसले के अनुसार, BS-4 इंजन वाले वाहनों को 31 मार्च, 2020 के बाद नहीं बेचा जाएगा। सुप्रीम कोर्ट ने इस संबंध में वाहन निर्माताओं के आवेदन को खारिज कर दिया है।
 इससे पहले, वाहन निर्माताओं द्वारा 30 अप्रैल, 2020 तक की समयसीमा के लिए सुप्रीम कोर्ट में अपनी याचिका दाखिल की थी। 
 विश्लेषकों का कहना है कि सुप्रीम कोर्ट के इस नए फैसले के बाद, कंपनियों को अपने सभी BS-4 इंजन वाले वाहनों को बाजार से वापस लेना होगा या फ़िर 31 मार्च, 2020 से पहले अपने सारे BS-4 वाहनों को बेचना होगा। हालांकि, अगर कोई ग्राहक 31 मार्च, 2020 से पहले किसी भी कारण से वाहन का पंजीकरण…
हाल की पोस्ट

अब भारत का हर नागरिक देश के किसी भी कोने से 'वोट' कर सकेगा।

भारत को दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र माना जाता है। जिसमें अनुमानित 130 करोड़ लोग हैं इनमें से 90 करोड़ लोगों के पास मतदान करने का अधिकार है यानी कि 69.23% लोग वोट कर सकते हैं। लेकिन इनमें से अंदाज़न 30% ऐसे भी मतदाता है, जिनके मतदाता सूची में अपने नाम होने के बावजूद भी वे मतदान से वंचित हैं।, क्योंकि वे नौकरी या व्यावसायिक कारणों से देश के अन्य हिस्सों में रह रहे होते हैं।
केंद्रीय चुनाव आयोग इस बात पर विशेष ध्यान ऱखकर एक आधुनिक सिस्टम बनाने जा रहा है। ताकि वे लोग भी लोकतंत्र में पवित्र माने जाने वाले मतदान में भाग ले सकें।
आने वाले दिनों में, भारत का प्रत्येक नागरिक देश के किसी भी कोने से 'वोट' कर सकेगा। अब, मतदाता अपने राज्य में किसी दूसरे राज्य से भी वोट कर सकेंगे। इसके लिए केंद्रीय चुनाव आयोग IIT चेन्नई के साथ मिलकर एक ब्लॉक चेन सिस्टम तैयार कर रहा है।

मुख्य चुनाव आयुक्त के कमिश्नर सुनील अरोड़ा ने बुधवार को कहा की "यह एक अत्याधुनिक सिस्टम होगी, यदि राजस्थान का कोई व्यक्ति चेन्नई में काम कर रहा है, तो वह चेन्नई से राजस्थान चुनाव में मतदान कर सकेगा"। हालांकि, उन्होंन…

क्या आप भी महीने में 30 हजार रुपये कमाना चाहते हैं? सरकार की इस स्टार्टअप पर 2.50 लाख तक की सहायता।

केंद्र सरकार जन औषधि केंद्रों की संख्या बढ़ाने जा रही है।  2020 के अंत तक, देश के सभी हिस्सों में एक जन औषधि केंद्र खोला जाएगा, जहां ग्रामीण स्तर पर लोगों को सस्ती और गुणवत्तापूर्ण जेनेरिक दवाएँ मिल सकेंगी। सरकार की यह घोषणा उन लोगों के लिए है जो इस क्षेत्र में व्यवसाय करना चाहते हैं। देश में अब तक लगभग 5,000 जन औषधि केंद्र खोले गए हैं। तो आप भी जन औषधि केंद्र खोलकर लगभग 30 हजार महीने कमा सकते हैं। तो चलिए जानते हैं कि आप एक जन औषधि केंद्र कैसे खोल सकते हैं।


जन औषधि केंद्र से जुड़ी कुछ बाते, इस योजना का लाभ कौन उठा सकता है?

 पहली श्रेणी में कोई भी बेरोजगार फार्मासिस्ट, डॉक्टर, पंजीकृत मेडिकल प्रैक्टिशनर यह स्टोर खोल सकता है। दूसरी श्रेणी में ट्रस्टों, NGO, निजी अस्पतालों, समाज और स्वयं सहायता समूहों को स्टोर खोलना मौक़ा मिलेगा।  तीसरी श्रेणी में राज्य सरकार द्वारा नामित एजेंसी यह स्टोर खोल सकती हैं। स्टोर खोलने के लिए 120 वर्गफुट क्षेत्र में स्टोर होना आवश्यक है।

सरकार से 2.5 लाख की सहायता मिलेगी।

  जन औषधि केंद्र खोलने की कुल लागत 2.5 लाख रुपये तक होगी। और जन औषधि केंद्र खोलने वाले को …

केंद्र सरकार का राशन कार्ड पर बड़ा फैसला, वन नेशन वन राशन कार्ड योजना 1 जून से पूरे देश में लागू कर दी जाएगी।

सरकार ने संसद में कहा कि वन नेशन वन राशन कार्ड योजना के तहत 1 जून से पूरे देश में एक राशन कार्ड योजना लागू की जाएगी। यह योजना अभी 12 राज्यों में लागू है। उपभोक्ता मामलों, खाद्य और सार्वजनिक वितरण विभाग के मंत्री रामविलास पासवान ने राज्यसभा में प्रश्नकाल के दौरान एक पूरक प्रश्न का उत्तर दिया कि देश में गरीबी रेखा से नीचे रहने वाले लोगों को मदद करने के लिए 1 जून से वन नेशन वन राशन कार्ड योजना को लागू कर दिया जाएगा।

 पासवान ने कहा कि, 2013 में 11 राज्यों में राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के लागू होने के बाद सभी राज्य इसके दायरे में आ गए हैं।

 उन्होंने कहा कि योजना के अगले चरण में, सरकार ने 1 जनवरी से पूरे देश के लिए वन नेशन वन राशन कार्ड योजना शुरू कर दि है। 12 राज्य आंध्र प्रदेश, तेलंगाना, महाराष्ट्र, गुजरात, केरल, कर्नाटक, राजस्थान, हरियाणा, त्रिपुरा, गोवा, झारखंड और मध्य प्रदेश से यह सेवा शुरू कि गई हैं।


उन्होंने यह स्पष्ट किया कि इस योजना के तहत किसी को भी राशन कार्ड के लिए नए कार्ड की आवश्यकता नहीं है। वहीं, पासवान ने नए कार्ड जारी करने की अफवाहों के बारे में चेतावनी देते हुए कहा…

Google ने बनाया एक अनोखा चैटबॉट "मीना", जिसकी IQ तकरीबन इंसानो के जैसी। जो आपसे बातचीत करता है और आपके साथ मजाक भी करता है।

अमेजोन और एप्पल अपने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस प्लेटफॉर्म को लगातार अपडेट कर रहे हैं और इसे और अधिक इंसानों के लिए बहेतर बनाने की ओर बढ़ रहे हैं। हमने हाल ही में देखा कि सैमसंग ने अपने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस नियॉन की शुरुआत की और अब Google भी ऐसा करने की कोशिश करने जा रहा है। अमेजोन एलेक्सा, गूगल असिस्टेंट और ऐप्पल सिरी का किसी भी जानकारी को जानने के लिए विशेष रूप से उपयोग किया जाते हैं, लेकिन आप Google की चैटबोट मीना से बात कर सकते हैं और यह आपको एक इंसान की तरह जवाब देगी।

यह वीडियो क्लिप मीना के साथ चैट की हैं।
Google का कहना है कि यह किसी भी चैटबॉट से बेहतर होगा। आप उसके साथ कुछ भी बात कर सकते है। इसे 41 गीगाबाइट सार्वजनिक सोशल मीडिया चैट एप्लीकेशनो पर प्रशिक्षित किया गया है। Google के शोधकर्ताओं का कहना है कि मीना में एक सिंगल इवॉल्विंग ट्रांसफॉर्मर एनकोडर और 13 एवोल्यूज्ड ट्रांसफॉर्मर डिकोडर ब्लॉक हैं। इसका मतलब यह है कि एक एक अकेला एनकोडर मीना को बातचीत को समझने में मदद करता है, जबकि 13 डिकोडर उत्तर तैयार करने में मदद करते हैं।


Google के अनुसार, इसे बहुत सारे सोशल मीडिया चैट के आधा…

अमूल अपने दूध की कीमतों पर प्रति लीटर 4 से 5 रुपये की बढ़ोतरी की सोच रहा है। जाने ऐसा क्यों हो रहा है?

महंगाई शब्द से ही अब आम जनता को डर लगने लगा है।देश की जानीमानी दूध उत्पादक कंपनी अमूल ने फिर से दूध की कीमतें बढ़ाने का फैसला किया है। अमूल के मेनेजिंग डिरेक्टर आर.एस. सोढ़ी ने एक इंटरव्यू में कहा प्रति लीटर दूध की कीमत में रु 4 से 5 और प्रति लीटर दूध उत्पादों पर रु 8 से 10 तक बढ़ने की संभावनाएं हैं।



महंगाई की एक और मार।अमूल डेरी दूध की कीमत प्रति लीटर बढ़ाएगी।अमूल के एम.डी. सोढ़ी का संकेत।

 उन्होंने कहा हैं कि जिन कंपनियों के पास अधिक दूध सप्लाई करने की क्षमता है, उन्हें वर्ष 2020 में अधिक लाभ होगा।

 उन्होंने यह भी कहा कि डेरी कंपनियों ने पिछले तीन वर्षों में दो बार दूध की कीमतों में वृद्धि की है। इस कारण से, डेरी किसानों की आय 2018 की तुलना में 20 से 25 प्रतिशत तक बढ़ी है।
दिसंबर - 2019 में की गई सबसे ज्यादा बढ़ोतरी।  यहां उल्लेखनीय है कि अमूल ने, दिसंबर - 2019 में उसके अपने दूध की क़ीमत में प्रतिलीटर रु 2 की बढ़ोतरी की थी। इसी तरह मधर डेरी  ने भी अपने विभिन्न प्रकार के दूध की कीमतों में 3 रुपये प्रति लीटर का बढ़ावा किया था। अमूल ने कहा कि पिछले तीन वर्षों में उसने दो बार दूध की कीमतों …

Airtel ने भारत के 11 सर्कलों में अपनी 3G Network की सेवाएं बंद कर दी है।

Airtel ने भारत के 11 सर्कलों में अपनी 3G Network की सेवाएं बंद कर दी है।

 टेलीकॉम दिग्गज Bharti Airtel ने बुधवार को 11 सर्कलों में 3G Network बंद कर दिया है - कंपनी के शीर्ष अधिकारी ने यह जानकारी दी है। Airtel की योजना इस साल के मार्च तक मौजूदा स्पेक्ट्रम में तेजी लाने और इसे अपने 4 जी नेटवर्क पर अपग्रेड करने की है। टेलीकॉम सेक्टर में जबरदस्त होड़ के बीच Airtel का मकसद सब्सक्राइबर्स को हाई स्पीड इंटरनेट देना है। पिछले साल अगस्त में, कंपनी ने मार्च 2020 तक पूरे देश में 22 टेलीकॉम सेक्टर में अपने 3G Network को बंद करने की घोषणा की थी।


3G Network को बंद करके, कंपनी उच्च-लागत वाले उपयोगकर्ताओं को बेहतर सेवा प्रदान करने पर अपना ध्यान केंद्रित करेगी।

 Bharti Airtel ने पिछले साल जुलाई में 3G Network बंद करने की प्रक्रिया शुरू की थी।


 कोलकाता के बाद, कंपनी ने हरियाणा और पंजाब सर्कल में 3G सेवाओं को बंद कर दिया। हालांकि, टेलीकॉम कंपनी फीचर फोन में ग्राहकों को अभी भी 2G सेवा दे रही है।

 इससे पहले, Airtel ने इस महीने की शुरुआत में दिल्ली NCR में अपनी 3G सेवाओं को बंद कर दिया था।  Bharti Airtel …