सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

बजट: आजाद भारत का पहला बजट किसने पेश किया था? पहला बजट कितना था?


भारत की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण 1st फरवरी यानी की आज बजट पेश करने वाली हैं। देश ने आजादी के बाद से कुल 26 वित्त मंत्री देखे हैं। 1947 से, कुल 89 बजट पेश किए गए हैं, निर्मला सीतारमण इस बार 89 वां बजट पेश करेंगी।

  • भारत का पहला बजट 171.85 करोड़ रुपये था।
  • भारत का पहला बजट साढ़े 7 महीने के लिए पेश किया गया था।
  • उस समय शाम 5 बजे बजट पेश किया गया था।


आजादी के बाद देश का पहला बजट तत्कालीन वित्त मंत्री आर.के. शनमुखम शेट्टी द्वारा 1947 को जारी किया गया था।


15 अगस्त को लगभग साढ़े 7 महीने का बजट,1947 से 31 मार्च, 1948 तक पेश किया गया। इस बजट में, रेवेन्यू बढ़ाने का लक्ष्य 171.85 करोड़ रुपये निर्धारित किया गया था। राजकोष खाते का लक्ष्य 204.59 करोड़ रुपये था।

तब भारत-पाकिस्तान की मुद्रा एक ही थी।

बजट में यह भी सहमति थी कि भारत और पाकिस्तान सितंबर 1948 तक एक ही मुद्रा का उपयोग करेंगे। पहला बजट पेश करते हुए शेट्टी ने कहा था कि "मैं आजाद भारत का पहला बजट पेश करूंगा। यह एक ऐतिहासिक घटना है और मुझे खुशी है कि मुझे इस बजट को प्रस्तुत करने का अवसर मिला। सम्मान के साथ-साथ, मेरे पास एक जिम्मेदारी की भावना है जो देश के वित्त मंत्री की जिम्मेदारी है।"


उस समय शाम 5 बजे बजट पेश किया गया था।

पहला बजट शाम 5 बजे पेश किया गया था। यह परंपरा 1999 तक जारी रही, जब बजट फरवरी के अंतिम कार्य दिवस पर शाम को पेश किया जाता था। ब्रिटिश काल से चली आ रही यह परंपरा 2001 में टूट गई, जब तत्कालीन वित्त मंत्री यशवंत सिन्हा ने सुबह 11 बजे बजट पेश किया। हालांकि, 2017 से फरवरी के अंतिम कार्य दिवस के बजाय बजट फरवरी के पहले कार्य दिवस पर पेश किया जाता है।

टिप्पणियाँ